Posts

Showing posts from September, 2016

मोदी जी ने नाम उनके जनम दिन पर

मोदी जी ने नाम उनके जनम दिन पर  लेखिका : कमलेश चौहान (गौरी) 
हज़ारो दुश्मन है जिसके फिर भी वह चलता है  शेर की  चाल।  जिसमे भरा है भीम का जोश ,दिया भारत को करण का स्वाभिमान
 सालो से पड़ोसी बना रहा शत्रु  कश्मीर में किया हिन्दू का कत्ले आम  आबरू -ऐ वतन पर फ़िदा हो जाओ मेरे वीरो हर भारती को है  पैगाम  
६५ वर्ष के बाद हुआ भारत के धरती पर  फिर से एक भारती लाल  जगाया है आज भारती  हिन्दू ,क्या  सिख ,ईसाई ,और  भाई मुसलमान 
मेरे  भारत को दिया विश्व में  गर्व , गूंजा फिर से  जवानों  का यशगान  उठो ,चलो आज चले उसके साथ जो जन्मा है  बचाने भारत की लाज 
उसकी उम्र दराज़  के लिये , सम्राट मोदी के लिए ईश्वर का करे  धन्यवाद  जन्म दिन पर  बधाई हो  मोदी जी नाम हो ऊंचा उस प्रभु से है  फ़रियाद 
वतन से बैठी दूर एक" गौरी " दुवाये  भेजती है आपको दिन में सौ सौ बारम्बार  मेरे जनम भूमि  के लाल आस लगाए बैठी हु कब होगा फिर से मेरा देश आबाद. 
** देखो भाईयो  घर के अंदर भी और बाहर भी हर कोई मोदी जी को गिराने और बर्बाद करने वाले दुश्मन भी आज उग्रवादी बने हुवे है. इसलिए  देश को जवान युवको को अब मोदी जी का साथ देना …
Child Endangerment by militants and their Parents in Kashmir. By: Kamlesh Chauhan
India and Indian Army has been playing very soft role with militants in Kashmir. Human Rights and Amnesty keep an Eye on Indian Army and they don’t check the disturbance, Killing, Kidnapping Youth, Rapes by militant as well how they put their minor children front to pelt stones on army after Friday Prayer. Now they start using petrol bomb.  I do believe Islam is peaceful religion, whoever training young kids to pelt stone they are putting these minor youth in danger,   Army is there to stop stone pelting and violence.  Stone pelting was forbidden by Prophet Muhammad (SAW). Some weeks earlier, SSP Srinagar had also quoted the sayings of the Prophet (SAW) to declare stone pelting as un-Islamic.
The fact is poor youth lost their way .they really don’t know want. Their brain, Their thoughts are fully controlled by Jihadi leader Like Ali Geelani as well the most dangerous person Yasin malik . There are so many …